सोमवार, 14 जून 2010

जूनियर ब्‍लाँगर एसोसिएशन - कार्यक्रम योजना

जूनियर ब्‍लाँगर एसोसिएशन के इलाहाबाद मिलन कार्यक्रम की शुरूवात दिनाँक 15-6-2010 को दोपहर दो बजे प्रारम्‍भ होगी और 4 से 4.30 बजे तक समाप्ति किया जायेगा।

विषय
  1. हिन्‍दी चिट्ठाकारी सार्थक भूमिका और उसकी वर्तमान दशा और दिशा
  2. आपके विचारों मे हिन्दी चिट्ठाकारी को स्‍वर्णिम काल मे कैसे पहुँच सकती है ?
कार्यक्रम मे चर्चा हेतु उपरोक्त विषयों का चयन किया गया है, समय की उपलब्‍धता होने पर हम दोनो विषयों पर विचार मंथन करने करेगें, समय न होने पर कार्यक्रम मे सिर्फ प्रथम विषय को लिया जायेगा।

प्रत्‍येक वक्ता को निम्‍नतम बोलने की कोई समय सीमा नही होगी किन्‍तु अधिकतम 4 मिनट दिया जायेगा यदि वक्ता की बात समाप्‍त इस समायावधि मे समाप्‍त नही होती है तो वैकल्पिक 2 मिनट के अतिरिक्त समय की व्‍यवस्‍था होगी।

कार्यक्रम के दौरान वक्ता के बोलते समय किसी भी प्रकार के तर्क-वितर्क नही किया करेगा, वक्‍ता के वक्तव्‍य से उत्‍पन प्रश्‍नों को उपलब्‍ध नोट पैड पर लिख ले और चर्चा सत्र मे इसकों उठाये, ताकि किसी प्रकार का व्‍यवधान उत्‍पन्‍न न हो। समय और परिस्थिति के अनुसार और संयोजन किये जायेगे।

हमारे लिये समय का समायोजन इसलिये भी आवाश्‍यक है क्‍योकि शायंकाल 5 बजे से प्रयाग भ्रमण की भी योजना है, और कुछ साथी जो बाहर से अपने काम अवकाश लेकर आयेगे उन्हे रात्रि मे प्रस्‍थान भी करना होगा।

7 टिप्‍पणियां:

  1. अभी तक मैने आपको कोई सहयोग भी नहीं किया .. फिर भी विशिष्‍ट सदस्‍य के रूप में अपना नाम देख रही हूं .. मुझसे कोई सहयोग की अपेक्षा हो .. तो सार्वजनिक तौर पर रखें .. ताकि ब्‍लॉग जगत में कोई भ्रम न फैलने पाए .. शुक्रिया !!

    उत्तर देंहटाएं
  2. सादर वन्दे !
    जय हिंद ! वन्देमातरम !
    हमें भी अपना सहयोगी समझें |
    रत्नेश त्रिपाठी

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरी हार्दिक शुभकामनाएं आपके साथ थी, हैं और रहेंगी |

    कार्यक्रम की रूपरेखा स्पष्ट करने के लिए धन्यवाद

    जैसा कि बताया गया कार्यक्रम केवल २ घंटे ३० मिनट का है
    कार्यक्रम में शामिल होने वाले ब्लॉगर यदि एक छोटा सा नोट तैयार कर लें कि उन्हें किस विषय पर क्या बोलना है और कैसे अपने विचार प्रस्तुत करना है तो कम समय में ज्यादा बात को दूसरों के सामने रखा जा सकता है
    फिर भी ५ मिनट बहुत कम है
    संचालक महोदय से निवेदन है कार्यक्रम की समय सीमा को ३०-३० मिनट आगे पीछे से बढ़ाया जाय और १:३० पर शुरू कर के ५ बजे तक समाप्त किया जाए |
    वैसे भी ६ बजे तक मौसम इतना गर्म रहता है कि कोई बाहर नहीं जाना चाहेगा
    कार्यक्रम की शुरुआत में सभी से परिचय भी बढ़िया से हो सकेगा
    आशा करता हूँ आप भी इन बात से सहमत होंगे

    मिलते हैं कल १ बजे

    उत्तर देंहटाएं
  4. संगीता आंटी का नाम बिना सहमती के दर्ज किया है ब्लाग बाबू का नाम भी दर्ज करो , ब्लाग बाबू खूब मस्ती करेंगे आकर , ब्लाग बाबू बोहत समझदार है ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत बहुत शुभकामनायें और आशीर्वाद्

    उत्तर देंहटाएं